अमेरिकी विदेश विभाग
प्रवक्ता का कार्यालय
मीडिया नोट
दिसंबर 2, 2023

आज, जलवायु मामलों के लिए अमेरिकी राष्ट्रपति के विशेष दूत जॉन केरी दुबई, संयुक्त अरब अमीरात में जारी संयुक्तराष्ट्र जलवायु परिवर्तन सम्मेलन (कॉप28) में चार महाद्वीपों के नेताओं और मंत्रियों के साथ परमाणु ऊर्जा को तीन गुना करने की घोषणा में शामिल हुए। यह घोषणा 2050 तक वैश्विक नेट-ज़ीरो ग्रीनहाउस गैस उत्सर्जन का लक्ष्य हासिल करने और अधिकतम 1.5 डिग्री सेल्सियस तापमान वृद्धि के लक्ष्य को पहुंच के भीतर रखने में परमाणु ऊर्जा की अहम भूमिका को महत्व देती है। यह सुरक्षित सप्लाई चेन की आवश्यकता पर भी ज़ोर देती है तथा विश्व बैंक, अंतरराष्ट्रीय वित्तीय संस्थानों और क्षेत्रीय विकास बैंकों के शेयरधारकों को अपनी ऋण नीतियों में परमाणु ऊर्जा को शामिल करने हेतु प्रोत्साहित करती है। घोषणा का समर्थन करने वाले देशों में बुल्गारिया, कनाडा, चेक गणराज्य, फ़िनलैंड, फ़्रांस, घाना, हंगरी, जापान, मोल्दोवा, मंगोलिया, मोरक्को, नीदरलैंड, पोलैंड, दक्षिण कोरिया, रोमानिया, स्लोवाकिया, स्लोवेनिया, स्वीडन, यूक्रेन, संयुक्त अरब अमीरात, ब्रिटेन और अमेरिका शामिल हैं।


मूल स्रोत:  https://www.state.gov/the-united-states-joins-multinational-declaration-to-triple-nuclear-energy-capacity-by-2050-to-support-global-climate-and-energy-security-goals/

अस्वीकरण: यह अनुवाद शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेज़ी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।

U.S. Department of State

The Lessons of 1989: Freedom and Our Future