अमेरिकी विदेश विभाग
प्रवक्ता का कार्यालय
विदेश मंत्री एंटनी जे. ब्लिंकन
मार्च 1, 2021

आज वर्चुअल उच्चस्तरीय प्रतिजबद्धता सम्मेलन में मैंने यमन में मानवीय संकट के लिए लगभग 191 मिलियन डॉलर की अतिरिक्त मानवीय सहायता की घोषणा की। पिछले वर्ष के अंत में हमारे द्वारा दी गई लगभग 160 मिलियन डॉलर की सहायता के साथ अमेरिका वित्तीय वर्ष 2021 की शुरुआत के बाद से 350 मिलियन डॉलर से अधिक का योगदान कर चुका है। कुल मिलाकर, अमेरिका ने छह साल पहले संकट शुरू होने के बाद से यमन के लोगों के कष्ट को कम करने के लिए 3.4 बिलियन डॉलर से अधिक की सहायता दी है।

आज घोषित सहायता राशि में अंतरराष्ट्रीय विकास के लिए अमेरिकी एजेंसी (यूएसएड) के 177 मिलियन डॉलर से अधिक और विदेश विभाग के जनसंख्या, शरणार्थी और प्रवासन ब्यूरो के लगभग 14 मिलियन डॉलर के अंशदान शामिल हैं। यह सहायता भोजन, स्वास्थ्य, पानी, स्वच्छता, सफाई, आश्रय और संरक्षण के लिए मानवीय सहायता पर निर्भर 20 मिलियन लोगों की मदद करने, तथा आंतरिक रूप से विस्थापित और संघर्ष प्रभावित यमनियों और यमन में शरणार्थियों और शरण चाहने वालों की शिक्षा हेतु जारी अंतरराष्ट्रीय साझेदारों के प्रयासों में हमारा योगदान है। हमारी सहायता गंभीर कुपोषण की रोकथाम और उपचार, जलापूर्ति व्यवस्था की पुनर्स्थापना, कमज़ोर तबकों तक पहुंच में सुधार के लिए सड़कों की मरम्मत के कार्यों में मदद करने तथा आय अर्जित करने और आजीविका सुनिश्चित करने की दिशा में परिवारों के समर्थन का काम भी करती है।

अमेरिका यमन के सर्वाधिक लाचार लोगों को सहायता देने के लिए प्रतिबद्ध है, और हम आज की बैठक में अन्य दाताओं द्वारा उदारतापूर्वक मदद करने के वादों की सराहना करते हैं। अब जबकि आर्थिक संकट और कोविड-19 के प्रभावों के कारण और अधिक जटिल बन गए इस संघर्ष ने यमन के संकट को बढ़ा दिया है, हम दानदाताओं से अपने वायदों को शीघ्रता से पूरा करने और सहायता प्रयासों में तेज़ी लाने का आह्वान करते हैं। हम उन लोगों से भी सहायता के लिए आगे आने का आग्रह करते हैं जिन्होंने अभी तक ऐसा नहीं किया है।

आज घोषित की गई सहायता ज़िंदगियां बचाने और लोगों की पीड़ा को कम करने के लिए महत्वपूर्ण है, लेकिन यह उन लोगों तक पहुंचने में सक्षम होना चाहिए जिन्हें इसकी सबसे अधिक आवश्यकता है। हम फिर से हूतियों से सहायता कार्य को बाधित करना बंद करने की मांग करते हैं ताकि लक्षित लोगों तक सहायता की पहुंच सुनिश्चित की जा सके।

अकेले मानवीय सहायता इस संकट के बुनियादी कारणों को दूर नहीं कर सकती है; इसके लिए इस संघर्ष का एक राजनीतिक समाधान होना चाहिए। उस दिशा में, हम सभी संबंधित पक्षों से यमन में संघर्ष की समाप्ति के लिए संयुक्तराष्ट्र के विशेष दूत मार्टिन ग्रिफ़िथ्स की अगुवाई में आरंभ और यमन के लिए विशेष अमेरिकी दूत टिम लेंडरकिंग के नेतृत्व में ठोस राजनयिक प्रयासों द्वारा समर्थित प्रक्रिया में शामिल होने का आह्वान करते हैं।

यमन में अमेरिकी मानवीय सहायता के बारे नवीनतम जानकारी यहां उपलब्ध है: https://www.usaid.gov/humanitarian-assistance/yemen


मूल स्रोत: https://www.state.gov/united-states-announces-additional-humanitarian-assistance-for-the-people-of-yemen/

अस्वीकरण: यह अनुवाद शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेज़ी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।

U.S. Department of State

The Lessons of 1989: Freedom and Our Future