अमेरिकी विदेश विभाग
प्रवक्ता का कार्यालय
मई 16, 2021
विदेश मंत्री एंटनी जे. ब्लिंकन का बयान

इस साल 17 मई को होमोफ़ोबिया, ट्रांसफ़ोबिया और बाइफ़ोबिया के खिलाफ़ अंतरराष्ट्रीय दिवस (IDAHOTB) के 16 साल पूरे हो गए हैं। इस अवधि में अमेरिका ने लेस्बियन, गे, बाइसेक्सुअल, ट्रांसजेंडर, क्वीयर और और इंटरसेक्स व्यक्तियों सहित हर किसी के मानवाधिकारों और मौलिक स्वतंत्रताओं को सुनिश्चित करने का प्रयास किया है। बेशक, समावेश की राह में हमने चुनौतियों और असफलताओं का भी सामना किया, और हमारा काम अभी पूरा नहीं हुआ है।

“एक साथ: प्रतिरोध, समर्थन, भरोसा!” का संदेश IDAHOTB की इस वर्ष की थीम के रूप में विशेष रूप से मर्मस्पर्शी है। एलजीबीटीक्यूआई+ व्यक्तियों के खिलाफ़ नफ़रत और हिंसा ख़त्म करने के लिए हम सबको मिलकर काम करने की आवश्यकता है। अमेरिका अपनी भूमिका निभा रहा है। अपने प्रशासन के शुरुआती हफ़्तों में, राष्ट्रपति बाइडेन ने एक निर्देश जारी कर विदेशों में सक्रिय सभी अमेरिकी संघीय एजेंसियों को निर्देश दिया था कि वे “सुनिश्चित करें कि तमाम अमेरिकी कूटनीति प्रयास और विदेशी सहायता एलजीबीटीक्यूआई+ लोगों के मानवाधिकारों को बढ़ावा दें और उनकी रक्षा करें।” और वह महत्वपूर्ण कार्य अच्छी तरह चल रहा है।

अमेरिका कई प्रमुख क्षेत्रों में अपने प्रयासों को प्राथमिकता दे रहा है: एलजीबीटीक्यूआई+ की पहचान या आचरण के अपराधीकरण का विरोध करना; कमज़ोर एलजीबीटीक्यूआई+ शरणार्थियों और शरण चाहने वालों की रक्षा करना; मानवाधिकारों की रक्षा और ग़ैरभेदभाव को बढ़ावा देने के लिए धन उपलब्ध कराना; एलजीबीटीक्यूआई+ व्यक्तियों के मानवाधिकार हनन के खिलाफ़ कार्रवाई करना; और एलजीबीटीक्यूआई+ लोगों से भेदभाव के खिलाफ़ संघर्ष के लिए गठबंधन बनाना और अंतरराष्ट्रीय संगठनों के साथ भागीदारी करना। मिलकर काम करते हुए, हम एक ऐसी दुनिया का निर्माण कर सकते हैं जहां हर किसी की गरिमा का सम्मान और समर्थन हो। साथ मिलकर ही हम अधिकारों का सम्मान करने वाले समावेशी समाज के अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकेंगे, जहां किसी को इस कारण डरना नहीं पड़ता हो कि वे कौन हैं या वे किससे प्यार करते हैं।

मानवाधिकारों की सार्वभौम घोषणा में कहा गया है कि सभी को मानवाधिकारों और मौलिक स्वतंत्रताओं का अधिकार है। दुनिया भर में लेस्बियन, गे, बाइसेक्सुअल, ट्रांसजेंडर, क्वीयर और इंटरसेक्स व्यक्तियों के योगदान का जश्न मनाते हुए, अमेरिका इस साझा मूल्य की फिर से पुष्टि करता है: हर कोई गरिमा के साथ जीने का हक़दार है।


मूल स्रोत: https://www.state.gov/on-the-international-day-against-homophobia-transphobia-and-biphobia/.

अस्वीकरण: यह अनुवाद शिष्टाचार के रूप में प्रदान किया गया है और केवल मूल अंग्रेज़ी स्रोत को ही आधिकारिक माना जाना चाहिए।

U.S. Department of State

The Lessons of 1989: Freedom and Our Future